Labels

Saturday, October 8, 2016

Thinking






Man is the product 

of his own thoughts. 


चित्र और मित्र 

इंसान का

 चरित्र बनाते हैं।  

दोनों पर हर समय ध्यान दें। 


ढूंढने से सब कुछ मिलता है। 
हाँ समय जरूर लगता है। 
कोलम्बस का सुपना था 
कि शिप (पानी के जहाज ) पर दुनिया का चक्र लगायूं। 

उसका सपना पूरा करने के लिए 18 साल लगे। 

Training is everything .  


.
No training , no skill 

No skill , no work 

No work , no money 

No money , no life 

Beggars beg . They merely survive . 

So , learn a skill , be skillful. 

Love what you do or do what you love . 


Doing what you don't  love is  stress



माड़ी सोच

 और 

पैर की मोच 

इंसान को जीवन में 

आगे नहीं बढ़ने देती। 

No comments: