Labels

Tuesday, July 29, 2014

Vadmulla Teacher -1



बड मुल्ला टीचर 
(अच्छा अध्यापक बनने के 108 मंत्र )


गिफ्ट करो
दूसरों का भला करो

सेवा में ,

------------------------------------------------------
------------------------------------------------------
------------------------------------------------------

मेरे प्यारे ______________________ (यहाँ पर उस व्यक्ति का नाम लिखें जिसको आप ने यह पुस्तक साभार देनी है  जैसे भाई जी , बहनजी , श्रीमती , श्रीमान आदि ) मैं आपको अपने जीवन में एक बहुत महत्वपूर्ण ब्यक्ति समझती /समझता हूँ।  आपका मेरे जीवन में बहुत योगदान है।  इसलिए मैं यह अमूल्य पुस्तक आप को उपहार के रूप में प्रदान कर रहा/रही हूँ।  इसे बार बार पढ़ने से मेरी सोच और आदतों में बहुत  साकारत्मक बदलाब आए हैं।  यह मैं स्वयं महसूस कर रहा /रही हूँ।  यदि हम अपने आप में प्रतिदिन 1 प्रतिशत साकारत्मक बदला लाएं तो 365 दिनों में 365 प्रतिशत साकारत्मक बदलाब आ जाएगा और जीवन दुखो का पहाड़ न हो कर सुखों का सागर बन जायेगा। आप जो भी जीवन में चाहते हैं उसे किसी पेपर पर लिखें तिथि जरूर लिखे। सुबह उठ सबसे पहले इस लिखित पेपरको पढ़ें , रात सोने से पहले इस पेपर को पढ़ें।  अपनी डेली रूटीन को अपने सपनों को प्राप्त करने की दिशा में ढालें।  सपने साकार हो जायेंगे। 

यह नहीं हो सकता कि जाना दिल्ली  हो और पग   श्रीनगर की तरफ  के भरते रहें।  अपने पगों को संभल कर भरना पड़ता है। 

दूसरी गलती : कई लोग जो करना चाहते हैं उस की तयारी का सामन इकठा नहीं बल्कि अज्ञान दूसरों की सलाहों पर अपना समय नष्ट करते रहते हैं।  जो लोग आप को या आपके सपनों पर हस्ते हैं उन के साथ काम समय वितायें जो प्रोत्साहित करें उनके साथ अधिक समय वितायें।  आयटम विश्वास सफलता की कुंजी है उसके पच्छात कठिन परिश्र्म है।

केवल मन में ये कहने से "मैं कर लूँगा /लूंगी " से शक्ति बढ़ जाती है और दिमाग सोची हुई इच्छा को पूरा करने के ढंग सोचने लगने लगता है।  आप दुनिया मैं अनोखे हो आप जैसा कोई नहीं है।  अपने पर विश्वास करना सीखो।

आप बुद्धिमान हो।

 दूसरों के कहे पर नहीं आप अपनी शक्तियों को लिख कर देखो।  हैरान रह जाओगे।  कमियाँ किस मेँ नहीं होती।  दूसरों की कामियों को खोजने की बजाये अपनी खोजो और हर साल में एक कमजोरी को सुधार लिया तो 2/5 /10 साल में खामियां समाप्त और जीवन सुखी।


यह बैसे ही है जैसे एक किसान ने बटबारा किया और अपने एक बेटे को फसल का हरा भरा खेत और दूसरे को पत्थरों से भरा वीरान खेत। दूसरे बेटे ने बहुत बिरोध किया पिता और भाई को बुरा भला कहा। परन्तु पत्नी ने समझाया और कहा कि हम दोनों मिलझुल कर खेत में  से पत्थर निकाल देंगे फसल बीज देंगे।  6 -8 महीने के समय में खेत फसल बीजने के लायक बन गया।  बड़ी मेहनत से फसल बोई गई।  दोनों पति पत्नी दिन रात मेहनत करते।गांब के लोग प्रशंशा करते।

फसल पक गई।  काट कर जब फसल घर लाई गई तो यह पहले बेटे की फसल से तीन गुना थी।  अब पहला बेटा अपने बाप को कोसने लगा कि आप ने मुझे कम उपजायु खेत दिया है।

अपनी शक्तियों पर विश्वास और धीरज से इन्सान जीवन में जो चाहे पा सकता है। 

इस पुस्तक को पड़ कर मुझे साकारत्मक जीवन का महत्व समझ आया है।  जीवन शैली बदल गई है।  पारिवारिक और पेशे/व्यबसाय सम्बन्धी जीवन सुखमय हो गया है।  मन की बेचैनी शांति में बदल गई है।
मेरी इच्छा है कि यही सुख आपको मिले। इस लिए आपके पड़ने के लिए मैं यह पुस्तक आपको उपहार के रूप में पड़ने के लिए दे रही/रहा हूँ।  कृपया बार बार पढ़ें और जीवन को सुखमय बनायें।

                                                                                                   आपका धन्यबाद सहित
                                                                                                  
                                                                                                    __________________
                                                                                                   ___________________

तिथि ______________

टिपण्णी :
यह किताब जीवन भर के लिए एक हीरे के समान है।  इसे बार बार पढ़ें जव तक इसका एक एक मन्त्र आपके जीवन व् व्यबहार का अटूट अंग न बन जाये।
 सफल व्यक्ति अच्छी पुस्तकें पड़ पड़के अपने व्यबहार ब बोल बानी में परिवर्तन लाते हैं।  जैसे ही सोच छोटी से बड़ी में बदलती है जीवन बदल जाता है। सुख बाहर नहीं है इंसान की अपनी सोच में है। जैसे जैसे इस यथार्थ संसार की समझ आती जाएगी बैसे बैसे सुख बढ़ता जायेगा। 

Parents are visible God . God is invisible parents. बड़ों का करो सतकार , छोटों को दो प्यार , मीठे शब्द प्यार बढ़ाते हैं , अपशब्द झगड़ा करवाते हैं।  मीठे शब्द रिश्ते बनाते हैं , अपशब्द रिश्ते तुड़.बाते हैं।  रिश्ते जीवन भर के लिये हैं।  रिश्ते आग की तरह होते हैं ,अधिक  दूर जाएँ तो नजदीक आने को मन करता है , अधिक नजदीक आएं तो दूर जाने को मन करता है। मीठे शब्द कोशिश करने से सीखे जा सकते हैं।

ऐसे ही ज्ञान भरे जीवन सुधारक 108 मन्त्र इस पुस्तक का विषय -क्षेत्र है।

यह पुस्तक सभी - ETT /B.ED /M.ED /M.Phil /Ph.D अध्यापकों व प्रोफ़ेसरों व् पढ़ने बाले बच्चों के माता पिता के लिए है।

इंटरनेट पर Google खोलेँ और Vadmulla Teacher लिख कर सर्च करें।  वीडियो को सुनें।






 

No comments: