Labels

Saturday, February 21, 2015

Be Responsible

जिम्मेबार बने

अपनी और अपने परिवार

की सेहत

और सुरक्षा  को समझें



पहला सुख निरोगी काया
दूसरा सुख जेब में माया

चलोगे तो पहुंचोगे

हिम्मत करने बालों की कभी हार नहीं होती

बेहिमतों की नय्या कभी पार नहीं होती।

अपने जीवन की जिम्मेबारी आप लें।
भूतकाल से सबक लेकर आज में भविषय के लिए सोचना और करना सफलता और सुख का साधन है।

जो इंसान मिले हुए अवसर (मौक़े ) गँवाता है
वही भबिष्य में पछताता है।

चेंज शॉप चेंज लाइफ






 

Gift of Life

जिंदगी

सीखते रहो      पढ़ते रहो     चलते रहो        बढ़ते रहो   जिंदगी चलने का नाम है   सफलता आपके हाथ में है  

जिंदगी सोचने और करने से बनती है सम्बर्ती है   केवल सोचने  य बातों से नहीं।

आप अपनी जिंदगी के खुद मालिक हो।

बनाने बाले ने आपको अपने जीवन को चलाने के लिए सब कुछ दिया है। उसका हर रोज धन्यवाद करें की उसने जीवन रूपी उपहार आपको दिया है

 अब आप अपने जीवन में सुगंध भरें या दुर्गन्ध मर्जी आपकी  है।  बुरी संगत  और आदतें अबगुण -पैदा करती हैं

सत्संगत  और अच्छी आदतें सद्गुण पैदा करके आपको महान बनाती।

गलती किस से नहीं होती।  दूसरों की गलतियां उछालो नहीं बल्कि उनसे सहानुभूति करके उनको दोवारा जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करें।

प्यार और सहानुभूति से संसार को जीता जा सकता है नफरत से नहीं।  मन में प्यार और सहानुभूति की ज्योति हमेशा जगाये रखें।

 अच्छे जीवन के लिए अपने खान पान ,चारों व् व्यव्हार (बचन व् आचरण )पर नियंत्रण जरुरी है।  आप सुखी परिवार , सुखी परिवारों के समूह राष्ट्र को सुखी बनाते हैं , सुखी समृद्ध राष्ट्र संसार को।  इसलिए परिवार सुखी संसार सुखी। 

Wednesday, February 4, 2015

Change Thinking Change Life

What you focus upon

intensely

becomes the reality

over a period of time.

सोच को बदलो

 सितारे नज़र आएंगे 




नज़र को बदलो

 नज़ारे नज़र आयेंगे 

Friday, January 30, 2015

Keep Learning



ਸੀਖਤੇ ਰਹੋ 


ਪੜਤੇ ਰਹੋ 


ਚਲਤੇ ਰਹੋ 


ਬੜਤੇ ਰਹੋ 


ਜਿੰਦਗੀ ਚਲਣ ਦਾ ਨਾਂ ਹੈ 

Tuesday, January 27, 2015

CHALLENGE


DON'T LET YOUR CHALLENGES
LIMIT YOU

CHALLENGE YOUR LIMITATIONS

BENEFITS OF LEARNING



सीखते रहो

पढ़ते रहो 

करते रहो 

बढ़ते रहो            

जीवन चलने का नाम है         

Saturday, January 10, 2015

Mom and Dad

माता पिता

  1. जब आप ने धरती पर पहला सांस लिया था तब आपके माता पिता आपके साथ थे , मन में प्रण लें जब आपके माता पिता इस धरती पर आखरी सांस लें तब आप उनके साथ हों। 
  2. *******
  3. माता गर्भ में अपने बच्चे को सम्भाल कर रखती है बच्चों का भी फ़र्ज़ है कि वह अपने माता पिता को घर में सम्भाल कर रखें। 
  4. &&&&&
  5. बचपन में विस्तर गीला करते थे जवानी में ऐसा कुछ न करें जिस से माँ बाप की आँखे गीली हों। 
  6. $$$$$$$$
  7. 5 साल का लाडला बच्चा आपसे प्यार की उम्मीद रखता है 50 साल के बाद माँ बाप  भी आपसे प्यार भरी बोलबानी व व्यवहार की उम्मीद रखते हैं। 
  8. #######
  9. बचपन में पालने  बाले व पालने में झुलाने बाले माँ बाप को बुढ़ापे में धोखा न देना। उनका आशीर्वाद ही सभी तीर्थ स्थलों के दर्शन हैं। 
  10. @@@@@
  11. माँ बाप जीवित और दृष्टा (कड़वे दिखने बाले ) भगवन  है और भगवान अदृश्य माँ बाप है उनको सुवह शाम सादर प्रणाम जीवन में सफलता व सुख देता है। 
  12. *********
  13. पति/पत्नी पसन्द से मिलती है परन्तु माँ बाप कर्मो से मिलते हैं बनाने बाला देता है।  पसन्द के लिए कर्मों से मिले माँ बाप का दिल न दुखाना।
  14. &&&&&
  15. माता पिता शक्की ,क्रोधी, पक्षपाती बाद में पहले वह दृष्टा देव रूप हैं। 
  16. $$$$$$$
  17. माता पिता की आँखों में मन से दो बार अश्रु आते हैं - एक जब बेटी की बिदाई होती है और दूसरे जब बेटा उनसे मुख मोढ़ लेता है। ऐसा न करना। 
  18. #######
  19. जिन बच्चों को माता पिता बचपन में कह कह कर बोलना सीखाते हैं वही बच्चे बढ़े हो कर माँ बाप को चुप रहना कहते हैं। 
  20. @@@@@@
  21. बड़ों का करो सत्कार छोटों को दो लाड़ प्यार। 
  22. ***********
  23. मीठे बोल प्यार बढ़ाते हैं कड़वे बोल झगड़ा करवाते हैं 
   24 मीठे बोल रिश्ते बनाते हैं कड़वे बोल रिश्ते तुड़वाते हैं।

   25  खोये हुए पैसे या धन जीवन में  देर सवेर बापिस कमाया जा सकता है लेकिन बदकलामी से टूटा हुआ रिश्ता दोवारा नहीं जुड़ता। 

  26 . जब मेरे जीवन में मेरे पास धन की भरमार थी तब मैंने अपने रिश्तेदारों और दोस्तों के साथ खूब शेयर किया। अब पिछले 7 साल से मैं वीमारी से लाचार घर पर हूँ तो वही रिश्तेदार , दोस्त,जानकार मेरी सहायता कर रहे है यह कहना एक 5 साल पहले हुई दुर्घटना में घायल मरीज। वह कहता है जीवन में उतार चढ़ाव आते है चढ़ाव में दूसरों की सहायता करो उतार में वह आपकी सहायता करेंगे।

27 . इंसान आधा सुनता है चौथाई समझता है परन्तु दुगना बोलता है।  यही दुनिया में अधिक मानसिक समस्यायों की जड़ है।

28  सुनो, सोचो ,समझो, जानो और करो।  अंग्रेजी में कहते है "Kids reply , adults respond ." अर्थ : बच्चे बिना सोचे समझे केवल जवाब देते हैं बड़े सोच समझ कर समस्यायों का समाधान देते हैं।

29 . अधिक इंसानों की मानसिकता "सबसे बड़ा रोग , क्या कहेंगे लोग " यह सोच इंसान को अपने अन्दर ही एक  स्पीडब्र्रेकर है जो आगे बढ़ने नहीं देता।  अपने आप को पहचानो , अपनी शक्तियों को जानो और सही लोगों से मेल जोल रख कर आगे बढो      दुनिया आप की है "चिकन thinking या ईगल thinking " जैसा सोचोगे बैसा बनोगे।  एकान्त में बैठ कर लिख कर सोचे।  जीवन की समस्यायों के हल निकल आएंगे।  जॉन मिल्टन , अंग्रेजी लेखक "Paradise Lost " में कहते है : हमारा दिमाग़ बहुत ही शक्ति शाली है जो अपनी सोच से नरक को स्वर्ग और स्वर्ग को नरक बना देता है।  Have faith in your faith and doubt your doubts - A.D.Mohla . दुःख सोच में होते हैं।  सोच बदलो अपनी दुनिया बदलो। 

Vadmulla Teacher 8


तकनीक 93  : क्लास रूम से बाहर
तकनीक 94 :  चयन व चुनौती (चैलेंज)
तकनीक 95  : रिसर्च ट्रिप
तकनीक 96  : हैंड रिटन नोट
तकनीक 97  :  रि साइकिल बिन
तकनीक 98  : पेपर के दोनों पन्ने
तकनीक 99  :  दुनिया का नक़्शा
तकनीक 100 :  पब्लिक लाइब्रेरी

तकनीक 101 : बढ़ा सोचो बढ़ा पढ़ाओ 
तकनीक 102  :सुनना एक कला
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
5.  टीचर के कर्त्वय                                                                                                      130 -135

--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

तकनीक 103  : क्या करें ?
तकनीक 104 :  क्लास में टीचर
 तकनीक 105 :  क्लास टीचर
तकनीक 106   : साइंस टीचर। ....
तकनीक 107  :  टीचर को यह। ....
तकनीक 108  : धीरज व नमृता

--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
जीवन कथा : महान टीचर  डॉक्टर एस. राधाकृष्णन
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

Vadmulla Teacher 7

तकनीक 74 : किसी को अपनी बे इज्ज़ती। …।
तकनीक 75  : ड्रैस
तकनीक 76  : टीचर कभी। …।
तकनीक 77  : गोरूल ल्डन

तकनीक 78  : आप और आपके स्टूडेंट्स
तकनीक 79  : सकारतमक व्यव्हार
तकनीक 80  : आम टीचर से ऊँचे बनो
तकनीक 81  : जिंदगी कोई देखने। ..........
तकनीक 82  : स्मार्ट बनें

तकनीक 83  : अपने स्टूडेंट्स को जानें
तकनीक 84  : बच्चों को स्टीरियो टाइप। ……

____________________________________________________________________________________

4 . क्लास रूम से बाहर की दुनीया                                                116 -129
____________________________________________________________________________________
तकनीक 85  : क्लास रूम से बाहर की। ....... 
तकनीक 86  : फिल्म देखना
तकनीक 87 :  बच्चों के घर

तकनीक 88  : फोन करो
तकनीक 89  : टीचर सप्लाई स्टोर
तकनीक 90  : इंटरनेट
तकनीक 91 :  जानकारी बढ़ाएँ
:तकनीक 92 : माता पिता


ध्यान योग : लेखक ने पिछले 16 बर्षों में 3000 से अधिक बच्चे पढ़ाये हैं जिनमे से 250 के लगभग अमेरिका , कनाडा , ऑस्ट्रेलिआ , न्यूजीलैंड आदि दूसरे देशों में पढ़ रहे हैं या बहां पर पी. आर ले कर बस गए हैं

 

Thursday, January 8, 2015

Vadmulla Teacher 6

 इस पुस्तक में वह तकनीकेँ हैं जो ETT /JBT /B.Ed /M.Ed में नहीं पढाई जाती हैं परन्तु टीचिंग कैरियर में बहुत ही लाभदायक हैं। मैंने इस किताब को 10 बार से भी अधिक बार पढ़ा है हर बार नया गुण सीखता हूँ  :- एक टीचर जिसका पढाने का तजुर्बा 13 साल है।

तकनीक 55 :  गैस्ट स्पीकर बुलाओ

तकनीक 56  : स्टूडेंट्स करने से.……।
 तकनीक 57  : रियल प्ले। ……
तकनीक 58  :  लेटर राइटिंग - पत्र लेखन
तकनीक 59  :  कलाज बनबाओ
तकनीक 60  :  सभी की सहायता करो
तकनीक 61  :  हार्ड वर्क - परिश्र्म
तकनीक 62  : टीचिंग मैटेरियल
__________________________________________________________________________________

3 . अच्छा टीचर कैसे बने                                                                  91 - 115
__________________________________________________________________________________
तकनीक 63  : बच्चों के भले ,,,,,,,,,,
तकनीक 64  : अपनी फिनान्शिअल सुरक्षा -एक दायित्ब
तकनीक 65  : अपने शौक के लिए क्लास। ....

तकनीक 66  : हमेशा उत्साहित रहो।
तकनीक 67  : विश्वास
तकनीक 68  : क्लास में मौन
तकनीक 69  : अपने आप को प्यार - सैल्फ लब
तकनीक 70  : जिंदगी जियें
तकनीक 71  : सकारत्मक सोच - सकारत्मक बातेँ
तकनीक 72  : धन्यबादी बनें
तकनीक 73  : जो पढ़ते हो , उसे अपनी। ……

ध्यान दें :
लेखक वलर्ड लेवल "Visionaries " the Principals Award प्राप्तकर्ता है और Google ब्लॉगिंग पर "Good Parenting " व " Motivational Speaking " के Rank # 1 रहे हैं।
 

Vadmulla Teacher 5

तकनीक 34 : नवीन शिक्षा

तकनीक 35  : शब्दों की खोज - डिक्शनरी और थिसॉरस
तकनीक 36  : प्रोडक्टिव ब्रेक
तकनीक 37  :पेपर
 तकनीक 38  : पेपर मार्किंग करने का ढंग
 तकनीक 39  : टैस्ट
तकनीक 40 :   "आई डोंट नो " मुझे पता नहीं

तकनीक 41  :  क्लास को बदलो
तकनीक 42  :  केवल टेस्ट के लिए
तकनीक 43  :  टॉकिंग एण्ड टीचिंग
 तकनीक 44  : ग्रे सैल
 तकनीक 45  :  ज्ञान या ग्रेड
तकनीक 46  :   पढ़ाई या प्रशंशा

 तकनीक 47  :  पिक्चर और पढ़ाई
तकनीक 48  :   महान टीचर
तकनीक 49  :   बच्चों की सुनो
तकनीक 50  :   मिलजुल कर पढ़ने से। ……
तकनीक 51  :  पढ़ाने के नए। ....
 तकनीक 52  : बच्चों का नया होसला
 तकनीक 53  : क्रियेटिव अवॉर्ड
तकनीक 54  :  हम बच्चों का.…… 

Monday, January 5, 2015

Vadmulla Teacher4

_________________________________________________________________________________
2 . स्कूल में कैसे रहें ?                                                                                                   40 -90               
_______________________________________________________________________________

तकनीक 15 :             टीचर रूम का प्रयोग। …

तकनीक 16  :            नकारात्मक प्रश्न। ....

तकनीक 17  :           पैसे खर्च करें

तकनीक 18  :            लेसन प्लान शेयर करें

तकनीक 19  :            स्कूल के लिए ग्रांट कैसे लें ?

तकनीक 20  :           सुप्पोर्ट स्टाफ से वोलचाल व् व्यबहार।

तकनीक 21  :           सह -टीचर। …

तकनीक 22  :           स्कूल में कुछ समय। …

तकनीक 23  :           पढ़ाने की तकनीक। …

तकनीक 24  :           क्लास का बातावरण। …

तकनीक 25  :           गलतियाँ। ....

तकनीक 26  :           लाल पैन

तकनीक 27  :           पेपर मार्किंग (+/-)

तकनीक 28  :           पेपर टाइपिंग

तकनीक 29  :           मैमोरी गेम्स

तकनीक 30  :           बार- बार दोहराना (रिवीज़न ) …

तकनीक 31  :           लेसन प्लान में.....
      
तकनीक 32  :          इस के स्पैलिंग। ..

तकनीक 33  :           नवीन शब्द। ..

ध्यान योग :
 एक स्कुल के प्रिंसिपल ने बताया : जो मैं टीचर डिवेलपमेंट प्रोग्राम पर लाखो रूपए का खर्च करके प्रपात नहीं कर पाया वह मैं इस किताब से कर पाया हूँ।  मैंने इस किताब की पंजाबी भाषा की 22 किताबें खरीदी और 20किताबे  अपने सीनियर टीचर्स को दे दी वह  ETT/JBT/B.Ed/M.Ed हैं।       और 2 लाइब्रेरी में रख दी   मैं उनके व्याहबार में एक अच्छे टीचर के गुण देख रहा हूँ।  एक  विद्वान ने सही कहा है -  अपने  जीवन की समस्यायों का हल बाहर न ढूंढ कर अपनी सोच को बदलना चाहिए।  सोच पड़ने लिखने से बदलती है।  यह दुनिया बहुत ही अच्छी है हमनी केवल अपने विचारों को बदलना है दुिनया को नहीं। सीखना ही जीवन है  जैसे ही आपकी सेल्फ टॉक नकरात्मक से सकारात्मक होगी जीवन का रुख दुखों से सुख में बदल जायेगा।